शाहजहाँपुर : बच्चे की चाहत में तांत्रिक के कहने पर की थी मासूम की हत्या

यूपी के शाहजहाँपुर में दिल दहला देने वाला मामले का सोमवार को थाना रोजा क्षेत्र के गांव जम्मू में हुई मासूम लालाराम की हत्या का पुलिस ने  किया खुलासा|
शाहजहांपुर मे कक्षा एक मे पढने वाले छात्र की हत्या के मामले मे पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है। दस साल के छात्र की हत्या किसी और ने नही बल्कि पडोस की रहने वाली महिला ने तांत्रिक के कहने पर की थी। बच्चे की बलि लेने वाली महिला धनदेवी ने अपने प्रेमी सुनील के साथ बच्चे की बलि लेने के लिये पकड लिया। उसके बाद उसके गालो को दांतो से कांटकर उसके गले मे रस्सी कसकर हत्या कर दी। इस हत्या मे महिला के भाई सूरज ने सहयोग किया था। इस मामले मे पुलिस ने तीनो आरोपियो को गिरफ्तार कर जेल भेजा है।
आपको बता दे 6 नबम्बर को उस समय हडकम्प मच गया था जब कक्षा एक मे पढने बाले छात्र की हत्या कर शव घर के बाहर फेक दिया गया था। बच्चा एक दिन पहले से लापता था। परिजनो ने बच्चे की गला दबाकर हत्या की आशंका जताई थी। बच्चे के परिजनो की गांव मे किसी से दुश्मनी नही है। घटना थाना रोजा के जमुका गांव की है जहां दस साल का लालदास घर से गायब हो गया था अगली सुबहउसका शब घर के बाहर मिला था। सतीश के गले मे रस्सी के निशान मिले थे।
वही पुलिस ने  फोरेन्शसिक जांच कर शब को पोस्टमार्टम भेजकर मामले की छानबीन शुरू की थी और पुलिस ने ओम प्रकाश की तहरीर पर अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरु की थी।  विवेचना के आधार पर पुलिस ने गांव की एक महिला तथा दो युवकों को शक के आधार पर गिरफ्तार किया और उनसे हत्या के संबंध में पूछताछ की तो वह तीनों टूट गए इसके बाद हत्या का खुलासा हो गया। पुलिस के मुताबिक पीलीभीत जनपद के थाना माधोटांडा के ग्राम मैनाकोट निवासी धनदेवी पत्नी धर्मपाल की शादी को छह साल हो चुके थे लेकिन उसके कोई बच्चा नही हो रहा था। पिछले कुछ दिनों से वह रौजा के ग्राम जमुका निवासी अपने मामा मुनेंद्र के घर रह रही थी। धनदेवी बच्चे की चाहत में एक तांत्रिक के संपर्क में आ गई। जिसने उसे किसी बच्चे की बलि देने की सलाह दी थी। इसी को लेकर धन देवी के मन में बलि देने का विचार आया।  सोमवार को गांव के रहने वाले ओमप्रकाश का बेटा लाला राम(10)  मुनेंद्र के घर के बाहर खेल रहा था। प्लान के तहत धनदेवी के ममेरे भाई सुनील तथा उसके प्रेमी सूरज ने मिलकर लाला राम को घर में खींच लिया और वह रस्सी से उसका गला घोंटकर हत्या कर दी। रात भर लाश को अपने घर में छिपा कर रखा सुबह 4 बजे तीनो ने मिलकर उसे फेक दिया। पुलिस ने घटना का खुलासा कर तीनों आरोपियों को जेल भेज दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *